Category Archives: Art & Culture

फटा पोस्टर निकला….’मोर गांव मोर देस’

झारखंड की धरती से ये पहला मौका होगा जब किसी क्षेत्रीय भाषा (नागपुरी) की फ़िल्म के पोस्टर को बंगाली फिल्मों के दर्जे पर तैयार किया गया हो…..पेश है फ़िल्म ‘मोर गांव मोर देस’ की पहली झलक….खास इन्फो इंडिया के रीडर्स के लिए…..

Read more

फ़िल्म “मोर गांव मोर देश”

झारखंड की क्षेत्रीय भाषा नागपुरी में बनी फिल्मों की फेहरिस्त कम नहीं है….लेकिन अब तक झारखंड की कृषि (एग्रीकल्चर) के इर्द गिर्द कहानी बुनने की कोशिश किसी ने नहीं कि…. झारखंड के फिल्मकार अश्विनी कुमार ने फ़िल्म “मोर गांव मोर देश” के ज़रिए यहां की उन्नत कृषि को आधार बना कर युवाओं को अपने गांव वापस आने का संदेश दिया

Read more

दो दिवसीय थिएटर फेस्टिवल

झारखंड फ़िल्म एंड थिएटर एकेडेमी द्वारा रांची पुलिस के जवानों को समर्पित दो दिवसीय थिएटर फेस्टिवल का आज यानी कि शनिवार को दूसरा दिन (31 मार्च) है,  फेस्टिवल के दूसरे दिन राजीव सिन्हा द्वारा निर्देशित पूर्णकालिक नाटक “भुक्खड़” का मंचन किया जाएगा,  “भुक्खड़” कहानी है एक भूखे व्यक्ति की, जो भूख से तड़प कर सड़क के फुटपाथ पर ही कोमा

Read more

PAITKAR PAINTING OR SCROLL PAINTING ( pictures depicted in the way of storytelling )

Paitkat painting is one of the oldest tribal painting of Jharkhand. A painting that depicts the mythological stories about human life after death. The usual subject of this painting are :- flora and fauna , legend and folktale , traditional and hindu epic. The word ‘paithkar’ comprises of two words ‘paith’ which means ‘scroll’ and ‘kar’ means who does this

Read more

घुघनी के साथ प्याजी खाया क्या कभी?

ये है”प्याज पकोड़ा” जिसे झारखंड में प्याजी के नाम से खाया जाता है। प्याजी के साथ चने की सब्जी यानी की घुघनी का स्वाद तो मानो सोने पे सुहागा। और इसके साथ एक कटिंग चाय हो जाते तो कॉम्बिनेशन ही गई पूरी। तो क्या आप भी लेना चाहते हैं मज़ा घुघनी और प्याजी का…तो पहुंच जाइये रांची नगर निगम आफिस

Read more
« Older Entries