सुप्रीम कोर्ट ने आईआईटी-जेईई की काउंसलिंग प्रक्रिया पर रोक लगा दी है…कोर्ट ने आदेश दिया है कि अगले आदेश तक देश भर में जॉइंट एंट्रेंस टेस्ट के बाद दाखिले के लिए चल रही कॉउंसलिंग प्रक्रिया पर रोक रहेगी…IIT में दाखिले के लिए परीक्षार्थी ऐश्वर्या अग्रवाल ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर मांग की है कि आईआईटी-जेईई 2017 की अंक लिस्ट को रद्द किया जाए… याचिकाकर्ता के मुताबिक आईआईटी-जेईई में शामिल होने वाले छात्रों को ‘बोनस अंक’ देने का फैसला गलत है… इसकी वजह से उसके और बहुत से छात्रों का हक़ मारा जा रहा है…याचिका में ये भी मांग की गई है कि आईआईटी-जेईई(एडवांस) की रैंक लिस्ट में त्रुटि दूर कर दोबारा से लिस्ट बनाई जाए… जिन छात्रों ने गलत सवाल का सही जवाब दिया है उनको अंक दिया जाए… प्रश्न पत्र में कई गलत प्रश्न थे, जिनकी वजह से सभी अभ्यर्थियों को उसकी जगह बोनस अंक दिए गए… इस फैसले का विरोध याचिका में किया गया है…याचिकाकर्ता के मुताबिक प्रवेश परीक्षा दोबारा से कराई जाए तो बेहतर होगा या फिर सभी छात्रों को अगले साल होने वाली परीक्षा में फिर से मौका दिया जाए…supreme_court_650x400_61467195545_1499421389_618x347

Advertisements