सच ही कहा हैं किसी ने कि “बच्चों में भगवान बसते हैं” तभी तो उनके मन में किसी भी तरह का छल नहीं होता…पर जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं, हमारे अंदर ईष्या, द्वेष और हीना भावना आने लगती हैं…इन्फो इंडिया टीवी लाया हैं आपके लिए ‘टोली की डोली’ के तरफ से एक छोटा-सा फिल्म जो एक बच्चे की निःस्वार्थ भाव को दर्शाता हैं…आइये एक बार फिर से बच्चा बन के देखते हैं…

Advertisements