देशभर में 1 जुलाई से लागू होने जा रही जीएसटी में कुछ सप्ताह पहले ही सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए कई वस्तुओं के टैक्स स्लैब को घटा दिया है जिसे पहले अपेक्षाकृत ज्यादा रखा गया था… दरअसल, विभिन्न उद्योगों की मांग पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) पर केंद्र तथा राज्यों के अधिकार प्राप्त मंच ने 66 तरह की वस्तुओं पहले निर्धारित टैक्स की दरों में संशोधन कर उन्हें कम रखने का फैसला लिया…जीएसटी को चार स्तर में बांटा गया है और 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत की दरें निर्धारित की गई हैं. हीरा, चमड़ा, वस्त्र, आभूषण और छपाई जैसे सेक्टर में आउटसोर्सिग के रोजगार को प्रोत्साहित करने के लिए जीसटी दर घटा कर पांच फीसदी किया गया है. gst-essay

Advertisements